Top 10 SEO Tips for Webmasters

अपनी वेबसाइट या अपने बिज़नस को आप मशहूर करने के लिए जितना भी काम करे वो कम है, लेकिन अगर आप ठीक तरह से काम करते है तो कम समय में भी आप अच्छी तरह से अपनी वेबसाइट के लिए काम कर सकते है और अपनी वेबसाइट को कम वक्त देकर भी आप मशहूर कर सकते है

लेकिन सवाल ये बनता है की कम समय देकर भी आप कैसे अपनी वेबसाइट को अच्छे से पॉपुलर कर सकते है, दोस्तों उसके लिए आपको बस SEO के हर नियम को थोड़ा अच्छे से समझना होगा, SEO के कुछ बेसिक टिप्स नाम से भले बेसिक हो लेकिन वो SEO में अपनी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है

Top 10 Basic SEO Tips for Webmaster

हम देखते है SEO के कुछ बेसिक टिप्स

 

1. H1 एच-1

एच1 का मतलब हैडिंग टैग होता है, हैडिंग टैग का शब्दो पर उनकी क्षमता के हिसाब से लगाया जाता है, जब भी आप कोई पोस्ट करते है तो ह्१ टैग उस शब्द पर लगाइये जो शब्द आपके पोस्ट में सबसे महत्वपूर्ण है, सर्च इंजन आपके पेज में लगाए हुए h1 को ही पहले पढ़ता है और अपने सर्च रिजल्ट में दिखाता है

 

2. Alt & Title Tag – ऑल्ट और टाइटल टैग

ऑल्ट और टाइटल टैग आपकी वेबसाइट के पेज पर पोस्ट की हुई फोटो पर लगता है, आप जो भी इमेज अपने पेज पर लगाते है, उसके HTML में आप ऑल्ट और टाइटल टैग जरूर इस्तेमाल करे

सर्च इंजन इमेज को उसके ऑल्ट टैग और टाइटल टैग से ढूंढता है, तो अगर आप चाहते है की आपकी वेबसाइट की फोटो भी सर्च इंजन में दिखाई दे, तो इसके लिए आपको ऑल्ट टैग और टाइटल टैग का इस्तेमाल करना चाहिए

 

3. Image Optimize – फोटो को पावरफुल बनाना

इमेज पर ऑल्ट टैग और टाइटल टैग लगाने के साथ साथ आपको इमेज के साइज़ पर भी ध्यान देना है, फोटो का साइज़ आपके ब्लॉग या वेबसाइट के पेज की स्पीड पर निर्भर करता है, अगर आपने अपनी वेबसाइट में ज्यादा साइज़ की इमेज लगा दी तो आपकी वेबसाइट धीरे खुलेगी,

इसके लिए आपको ध्यान रखना है की आपके पेज पर रखी हुई हर फोटो का साइज़ ठीक हो, इसके लिए आप एक टूल RIOT उसे कर सकते है, यह एक बहुत ही अच्छा टूल है जो आपकी फोटो का साइज़ कम कर देता है, और फोटो की क्वालिटी भी ख़राब नहीं होती

 

4. Don’t Use Special Characters – किसी खास शब्द का इस्तेमाल न करे

ये एक खास पहलु है आपकी वेबसाइट के लिए, आप जो भी पोस्ट कर रहे है उसका ध्यान रखे की उसमे कोई खास अक्षर तो नहीं, क्योकि सर्च इंजन ऐसे शब्दो को ज्यादा महत्वता नहीं देता, और अपने सर्च रिजल्ट में भी ठीक से नहीं दिखाता तो कोशिश करे के पोस्ट में स्पेशल कैरेक्टर का इस्तेमाल न करे

 

5. Usnderscore & Permalinks

अंडरस्कोर और पर्मलिंक्स भी एक तरह का स्पेशल कैरेक्टर है जो आपके वेबसाइट के एड्रेस में इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन परेशानी ये है के सर्च इंजन इसे भी ज्यादा महत्वता नहीं देता और अपने सर्च के रिजल्ट में ठीक से नहीं दिखाता, अगर आपकी वेबसाइट के एड्रेस (URL ) में उन्डरस्कोर या परमालिंक्स है तो आज ही उसे हटाने की कोशिश करे

उदहारण के लिए

www.google.com/contact.aspx/postid=२५४६&२१३

या फिर

www.google.com/contact_us

ये दोनों ही URL आपके वेबसाइट के लिए ठीक नहीं है, आपको कोशिश करनी है के इन्हें इस्तेमाल नहीं करना

 

6.Post Length & Bold Keywords

आप वेबसाइट पर जो भी कंटेंट पोस्ट कर रहे उसकी लंबाई के साथ साथ आपको कीवर्ड्स का भी ध्यान रखना है, किसी भी पोस्ट को इतना चोट मत बनाइये की वो बहुत छोटा लगे और न ही किसी पोस्ट को इतना लंबा बनाइये की पढ़ने वाला बोर हो जाए

जब भी आप पोस्ट बनाते है तो उसमे आपको ध्यान रखना है की आपके जो भी शब्द महत्वपूर्ण है उनका (Bold ) गहरा करना है, इससे सर्च इंजन और यूजर का ध्यान बोल्ड शब्दो पर आकर्षित होता है, और यह आपके सर्च रिजल्ट के लिए भी अच्छा है

 

7.Too Many Image and Pop ups

अगर आप पोस्ट के बीच बीच में फोटो का इस्तेमाल कर रहे है तो ध्यान रहे की इमेज बहुत ज्यादा इस्तेमाल न करे, बीच बीच में रुक कर आप इमेज का इस्तेमाल कर सकते है, नहीं तो आपके शब्दो से ज्यादा आपके पेज में फोटो दिखाई देंगी,

 

8. Sharing button – दुसरो तक शेयर करने की सुविधा

ये जरुरी है के आप जो भी लिख रहे है और दुसरो तक पंहुचा रहे है वो हर जगह इन्टरनेट के माध्यम से पहुच जाए, इसलिए आपको पोस्ट में शेयर करने के लिए बटन लगाना जरुरी है, ताकि आने वाला यूजर चाहे तो अपने सोशल मीडिया में आपके पोस्ट का लिंक शेयर कर सके, इससे आपके ब्लॉग पर आने वाले लोगो की संख्या बढ़ सकती है

 

9. Question and Answer Listing

सवाब और जवाब, आप चाहे तो दुसरो लोगो से अपने ब्लॉग या वेबसाइट के बारे में विचार ले सकते है, और इसी तरह दूसरे यूजर की मदद के लिए एक कॉलम भी बना सकते है, इससे आने वाले यूजर आपसे अपने विचार रखेंगे और आपके ब्लॉग पर ज्यादा वक्त बिताएंगे

 

10 Duplicate Words – चुराए हुए शब्दो का भंडार

और अंत में सबसे जरुरी बात आपको ये याद रखनी है की कभी भी किसी और के पोस्ट के कोई शब्द मत लीजिये, हमेशा अपने कंटेंट खुद लिखिए,

गूगल का यह नियम अब तक का सबसे बड़ा नियम है जिसमे अगर आपने किसी और वेबसाइट से कंटेट लिए है या आपके कंटेट किसी और वेबसाइट से मिलते जुलते है तो इस बात की पक्की गारन्टी है की आपकी वेबसाइट को नुकसान हो सकता है और आपके सर्च इंजन के रिजल्ट ख़राब हो सकते है, इसलिए हमेशा कोशिश कीजिये की अपने हर पेज के कंटेंट को आप खुद लिखे!

 

अगर किसी और ने मेरी वेबसाइट के कंटेंट कॉपी कर लिए तो……

अब सवाल ये भी बनता है की अगर किसी और ने मेरी वेबसाइट के कंटेंट कॉपी कर लिए तो क्या होगा, एक दोस्त ने ये सवाल पूछा था की अगर आपकी खुद की वेबसाइट के कंटेंट किसी ने कॉपी कर लिए तो क्या होगा

ऐसे हालात में आपको घबराने की जरुरत नहीं, क्योकि पहली बात तो या है की सर्च इंजिन हर वेबसाइट को इंडेक्स (देखता रहता) करता है, सर्च इंजन को पता होता है की कौनसी वेबसाइट कब शुरू हुई और किसी वेबसाइट पर कंटेंट पहले डाले गए और किस वेबसाइट ने कंटेंट कॉपी किये,

इसलिए अगर आपके कंटेंट किसी ने कॉपी किये तो घबराने की जरुरत आपको नहीं, है लेकिन सर्च रिजल्ट में अगर कोई आपके कंटेंट पेस्ट करता है तो आपके साथ उसकी वेबसाइट भी सर्च रिजल्ट में दिखेगी, ये एक परेशानी है !

इसके लिए दोस्तों आप अगर अपनी वेबसाइट का हर एक शब्द खुद लिख रहे है और आपके पास लिखे हुए शब्दो का बैकअप है, और आपको ये लगता है के कोई आपके शब्दो को कॉपी न करे तो आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर कंटेंट Copyright (मालिकाना हक़) जरूर लिखना चाहिए

ताकि अगर कोई आपके कंटेंट कॉपी करता है तो आप उसे एक्के खिलाफ मजबूत कदम उठा सके, वैसे आपको घबराने की कोई जरुरत नहीं है, क्योकि आज कल हर कोई जानताहै की किसी और की वेबसाइट के कंटेट कॉपी करना बेकार है

फिर भी कुछ लोग होते है जो बिना सोचे समझे बस ब्लॉग बना देते है, खैर आपको ये ब्लॉग कैसा लगा, चाहे तो अपने विचार शेयर कर सकते है, और अगले पोस्ट में आप पढे

लॉन्ग टेल कीवर्ड और शार्ट टेल कीवर्ड में क्या अंतर है

Leave a Reply